लॉटरी ओपन: बीटीसी अभ्यर्थी सोचें शिक्षामित्रों को हटाने का बड़ा निर्णय उनके पक्ष में हुआ है: डॉ महेन्द्र सिंह

Publishing time:

लॉटरी ओपन: बीटीसी अभ्यर्थी सोचें शिक्षामित्रों को हटाने का बड़ा निर्णय उनके पक्ष में हुआ है: डॉ महेन्द्र सिंह

लॉटरी ओपन: बीटीसी अभ्यर्थी सोचें शिक्षामित्रों को हटाने का बड़ा निर्णय उनके पक्ष में हुआ है: डॉ महेन्द्र सिंह

थाना बडगांव के गांव शिमलाना लॉटरी ओपन मे एक युवक का दाढ़ी मूंछ रखना कुछ खुरापाती युवकों को नागवार लगा.

एक सूत्र ने बताया कि क्षेत्र में प्रतिकूल मौसम की वजह से जहाज के रवाना होने में देरी हुई.

COVID-19 ने इस 51 साल के शख्स को दी अच्छी खबर, 33 साल बाद पास की 10वीं क्लास. कोरोना संक्रमण की वजह से 32 लोगों की मौत हो गई है. छात्रों के गुस्से को देखते हुए कलेक्टर ने सहायक संचालक आदिम जाति को समस्याओं का निराकरण करने के निर्देश दिए थे.

सर्च इंजन गूगल हर खास दिन को अपने डूडल से समर्पित करता है और इसका ये न्यू इयर ईव डूडल बहुत ही क्यूट दिख रहा है. इसी को लेकर हाल ही में सिनेमैटोग्राफर अरविंद कृष्णा ने एक गाने के रिकॉर्डिंग सेशन की एक फोटो शेयर की.

कम से कम भुवनेश्वर की उपासना तो यही मानती हैं. द्रविड़ ने कहा कि मुझे लगता है कि धोनी जल्द ही इस बात का एहसास कर लेंगे कि उन्हें विदेशी जमीन पर जीत दर्ज करने लॉटरी ओपन के लिए साहसिक फैसले लेने होंगे। विदेशी जमीन पर जीत दर्ज करने के लिए यह सबसे जरूरी है कि कुछ कठिन निर्णय लिए जाएं। धोनी को जोखिम उठाना होगा तभी वह बाहर भी जीत दर्ज कर सकेंगे।. 174 रन की साझेदारी दोनों की सबसे बड़ी साझेदारी है.

सोशल मोबिलिटी इंडेक्स के मामले में भारत कुल 82 देशों में 72वें स्थान पर है. दरअसल दुनियाभर से जो आंकड़े पेश किए जा रहे हैं वह कुल कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या के हैं.

यह काफी दुर्लभ बात है कि इस्‍तीफे के बाद भी पद को नहीं भरा गया है. उन्होंने कहा है कि ये फैसला राज्य की मुख्य सचिव विमी महाजन ने लिया था.

बैसाखी की खुशियां मनाते हुए घर लौट रहे एक सिख परिवार पर मंगलवार शाम एक बस मौत बनकर टूटी और जीप में सवार परिवार के सभी 8 सदस्यों को मौत के घाट उतार गई. अनुमान के मुताबिक, आने वाले पांच सालों में विदेश जाने वाले चीनी यात्रियों की संख्या 70 करोड़ तक पहुंच जाएगी, जिससे साझा विकास और सम्पन्नता के मौके और बढ़ेंगे. नवरत्न उसके दस्तावेज कमरे पर ही भूल गया था। जब उसने अपने एक अन्‍य साथी को दस्तावेज लेने भेजा। साथी वहां पहुंचा और उसने दरवाजा खटखटाया। लेकिन दरवाजा नहीं खुला। राहुल के काफी देर तक दरवाजा न खोलने पर दोस्‍तों को शंका हुई। राजन ने बताया करीब 2 बजे उसे फोन पर यह जानकारी मिली कि राहुल दरवाजा नहीं खोल रहा। जानकारी मिलते ही तीनों रूम पार्टनर फ्लैट पर लौटे। इधर, सूचना मिलने पर पुलिस भी पहुंची। जैसे ही दरवाजा खोला तो राहुल को घर के अंदर फंदे पर लटका पाया।.


स्रोत: Nanfang Daily Online    Editor in charge: hit